Muzaffarpur

कौन लोग है जिन्होंने बिहार में अपना काम किया होता तो बच्चों को बचाया जा सकता था

Fri, 06/21/2019 - 23:38

बिहार में अब तक चमकी बुखार से 156 बच्चों की मौत हो चुकी है. मुजफ्फरपुर इससे सबसे ज्यादा प्रभावित है. यहां सबसे ज्यादा बच्चों की मौत हुई है. स्वास्थ्य सेवाओं पर सवाल उठ रहे हैं. बिहार में इस बुखार का कहर नया नहीं है 2012, 2014 के बाद एक बार फिर से बुखार से बच्चे बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं. ऐसा नहीं है कि बीच के सालों में बुखार का असर नहीं रहा है लेकिन ऊपर बताए गए सालों की अपेक्षा कम जरूर है. आखिर बिहार में इस त्रासदी के गुनहगार कौन कौन लोग हैं. वो कौन कौन लोग हैं जिन्होंने अगर अपना काम ठीक से किया होता तो इस त्रासदी से बचा जा सकता था और कम से कम इसके प्रभाव को कम किया जा सकता था.

0 comments

मुज्जफरपुर मास मर्डर: माफ करना बच्चों तुमने बिहार में जन्म लिया

Tue, 06/18/2019 - 02:38

लोहिया ने कहा था 'जिंदा कौमें बदलाव के लिए 5 साल इंतजार नहीं करती वह किसी भी सरकार के गलत फैसले का फौरन विरोध करती है'. बिहारियों को तो मुर्दों की जमात भी नहीं कहा जा सकता, ये बदलाव तो चाहते हैं लेकिन दूसरे के घर में.

पता नहीं किस ने तमगा दे दिया कि यहां राजनीतिक रूप से जागरूक लोग रहते हैं. जब तुम्हारे अपने सैकड़ों मासूम बच्चे चमकी बुखार से मर रहे हों, तुम्हारे अपने लोग लू से जान गंवा रहें हो, बाढ़ से तुम मरते हो, कुपोषण सबसे ज्यादा तुम्हारे यहां है और फिर भी तुम सड़कों पर उतरने की जगह ट्रंप और किम जोंग की पॉलिटिक्स पर डिस्कस कर रहे हो तो काहे का राजनीतिक जागरूकता बे.

0 comments

बिहार: मुजफ्फरपुर नारी निकेतन बलात्कार मामले में पुलिस ने कथित लाश के लिए खुदाई शुरू की

Tue, 07/24/2018 - 02:25

बिहार के मुजफ्फरपुर के महिला आश्रम में कथित तौर पर हुए १६ बलात्कार और एक हत्या के मामले में पुलिस ने लाश बरामद करने के लिए आश्रम में खुदाई शुरू की है। पुलिस द्वारा बचाये जाने के बाद आश्रम में रहने वाली एक लड़की ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए ये बताया था की वंहा पर लड़कियों से मारपीट करना और जबरन शारीरिक उत्पीड़न करना आम बात थी।

0 comments