Lok Sabha election

अगर 23 का परिणाम अभी जानना है तो सुरजीत भल्ला की किताब में चुनाव का विश्लेषण पढ़े

Mon, 04/29/2019 - 02:58

पीएम मोदी की आर्थिक सलाहकार परिषद के सदस्य रहे अर्थशास्त्री सुरजीत भल्ला ने लोकसभा चुनाव 2019 पर अपना विश्लेषण प्रकाशित किया है. भल्ला के मुताबिक बालाकोट में हुई एयर स्ट्राइक के बाद बीजेपी अकेले 300 या उससे ज्यादा सीटें जीत सकती है. भल्ला ने अपने विश्लेषण को एक किताब की शक्ल दी है. इस किताब का नाम सिटिजन राज इंडियन इलेक्शन्स 1952-2019 है. आपको बता दें कि भला ने बीते साल एक दिसंबर को पीएम की आर्थिक सलाहकार परिषद से इस्तीफा दिया था.उनके इस्तीफे की खासी चर्चा हुई है.

1 comment

राजा भैया की जनसत्ता पार्टी ने प्रतापगढ़ के चुनाव को फुटबाल का मैदान बना दिया है

Sat, 04/20/2019 - 03:02

दो चरणों के लोकसभा चुनाव संपन्न हो चुके हैं.अगली 23 मई को अगले चरण के चुनाव होंगे.बीते दिनों से हम आपको यूपी की अलग अलग लोकसभा सीटों के समीकरणों के बारे में जानकारी देते रहे हैं.आज हम आपको जानकारी देने वाले हैं यूपी की एक हॉट सीट के बारे में. हम आपको जानकारी देने जा रहे हैं यूपी की प्रतापगढ़ सीट के बारे में. प्रतापगढ़ जिसका नाम सुनते ही आप के दिमाग में राजा भइया का नाम आता है और ये चुनाव तो उनके लिए और भी खास है तो चलिए आपको ले चलते हैं प्रतापगढ़ के समीकरणों के सफर पर.यहां 12 मई को लोकसभा चुनाव होंगे.

0 comments

ताज के शहर में इस बार कौन पहनेगा लोकसभा का ताज?

Sun, 04/14/2019 - 00:33

दूसरे चरण में यूपी की जिन सीटों पर मतदान होना उनमें ताजनगर आगरा भी एक है.आगरा यूपी की सुरक्षित 17 लोकसभा सीटों में से एक है. राष्ट्रीय अनुसूचित जाति-जनजाति आयोग के प्रमुख रामशंकर कठेरिया यहां से सांसद हैं.हालांकि बीजेपी ने उनका ट्रांसफर कर दिया है.उन्हें इटावा लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया गया है.आगरा में पार्टी के उम्मीदवार अब यूपी सरकार में मंत्री एसपी बघेल हैं.बघेल पिछली बार फिरोजाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़े थे और यादव परिवार का गढ़ होने के बावजूद अच्छे वोट हासिल किए थे.

0 comments

समझते है नगीना सीट का चुनावी समीकरण, 18 अप्रैल को वोट पड़ना है

Sat, 04/13/2019 - 02:39

लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण के मतदान हो चुका है.अब 18 अप्रैल को दूसरे चरण के लिए मतदान होगा.राजनीतिक पार्टियां दूसरे चरण के मतदान के लिए तैयारियों में जुटी हुई हैं.यूपी में दूसरे चरण में भी आठ सीटों पर मतदान है.ये सीटें नगीना, बुलंदशहर, आगरा और हाथरस,अमरोहा, अलीगढ़, मथुरा और फतेहपुर सीकरी हैं. इनमें से नगीना,बुलंदशहर,आगरा और हाथरस सुरक्षित सीटे हैं.इनमें से नगीना सबसे नई सीट है.ये सीट नए परिसीमन के तहत 2009 में अस्तित्व में आई थी.आज हम आपको इसी नगीना सीट के राजनीतिक समीकरण के बारे में बताएंगे.

0 comments

मौजूदा बीजेपी सांसद का टिकट कटने के बाद क्या है गणित मिश्रिख लोकसभा सीट का

Tue, 04/02/2019 - 03:29

लोकसभा चुनाव के समर में हर पार्टी अपना जोर लगा रही है.बीजेपी जहां सत्ता में वापसी के लिए कोशिश कर रही है वहीं विपक्षी दल भी अपना जोर लगा रहे हैं.यूपी नें एसपी-बीएसपी का गठबंधन बीजेपी को हराने के लिए पूरा गणित लगा रहा है.प्रत्याशियों के चयन में गठबंधन बेहद सावधानी बरत रहा है.कल बीएसपी ने अपने उम्मीदवारों की सूची जारी की है.इसी सूची में मिश्रिख लोकसभा सीट के लिए उम्मीदवार का एलान भी हुआ है. लोकसभा चुनाव के लिए विशेष अंक में आज हम आपको बताने वाले हैं इसी मिश्रिख सीट के गणित के बारे में.अभी यहां सांसद बीजेपी की अंजूबाला हैं लेकिन अब उनका टिकट कट चुका है.बीजेपी के उम्मीदवार अशोक रावत हैं.

0 comments

उत्साहित नजर आने वाले पीएम मोदी की बॉडी लैंग्वेज इन दिनों पहले से कमजोर दिखती है!

Tue, 01/29/2019 - 02:55

अपने भाषण से लेकर राजनीतिक दांवों से विरोधियों को पस्त कर देने वाले पीएम मोदी शायद इन दिनों परेशान हैं.लोकसभा चुनाव से पहले कई चैनलों के ओपिनियन पोल में बीजेपी तो क्या NDA भी बहुमत से दूर है.विरोधी किसी भी हाल में गठबंधन करने को तैयार बैठे हैं.मोदी को हटाने का जुनून कांग्रेस समेत इन सबमें इन दिनों इतना दिख रहा है की चुनाव बाद कर्नाटक की तर्ज पर गठबंधन बन जाए तो कोई बड़ी बात नहीं होगी.सबसे बड़ी बात ये है की विरोधी तो छोड़ पार्टी में नितिन गडकरी जैसे नेता तंज कस रहे हैं.संघ भी सरकार को आंखे दिखा रहा है.कुल मिलाकर एक कठिन चुनाव से पहले तमाम चुनौतियां पीएम मोदी के सामने खड़ी हैं.

0 comments

आने वाले लोकसभा चुनाव दिलचस्प जरूर होंगे पर आसान किसी के लिए नहीं होंगे।

Fri, 05/25/2018 - 02:19

अगले साल होने वाले लोक सभा चुनाव के लिए जोड़ तोड़, गठबंधन बनना और टूटना अभी से शुरू हो गया है। कर्नाटक में जेडीएस के कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण के दौरान जिस तरह से विपक्षी एकता दिखाने का प्रयास किया गया। वंही उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में जिस तरह से पार्टिया बीजेपी के खिलाफ गोलबंद हो रही है, उससे आने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी Vs विपक्ष जैसा माहौल बनता दिख रहा है।

बीजेपी जिस तरह से हाल के दिनों में चुनाव लड़ती रही है और सत्ता में आने के लिए जी तोड़ मेहनत करती है उससे विपक्षी एकता बहुत प्रभावी नहीं दिखाई पड़ती।

0 comments