Jatav

भरतपुर: 1992 की आगजनी भुला जाटव और जाट वोटों को एकजुट कर पायेगी कांग्रेस?

Thu, 05/02/2019 - 02:10

राजस्थान का भरतपुर जाटों का गढ़ रहा है. यहां जाटों की आबादी काफी ज्यादा है लेकिन सुरक्षित सीट होने की वजह से यहां मुकाबला दलितों के बीच है. इस लोकसभा सीट पर राजघराने से लेकर कई बड़े नेताओं ने जीत दर्ज की है. कांग्रेस के नटवर सिंह, राजेश पायलट, राजा विश्वेंद्र सिंह और उनकी पत्नी दिया सिंह का नाम उन लोगों में शामिल है जो यहां से सांसद रहे हैं. 2008 में ये सीट सुरक्षित हो गई जिसके बाद यहां 2009 में यहां कांग्रेस ने जीत दर्ज की फिर 2014 में बीजेपी ने मोदी लहर में यहां जीत हासिल की थी. अभी यहां से तीन दलित नेता मैदान में हैं. बीजेपी, कांग्रेस और बीसएपी यहां से मैदान में हैं.

0 comments