केन्या में एक विधवा माँ का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में वो अपने 8 भूखे बच्चों को यह दिलासा देने की कोशिश कर रही है की वो उनके लिए खाना बना रही है पर असलियत में खाने के लिए कुछ भी न होने के कारण वो सिर्फ पत्थर उबाल रही थी। वो ऐसा इसलिए कर रही थी की बच्चों को ये उम्मीद रहे की घर में कुछ बन रहा है और वो उसी उम्मीद में सो जाए।

पेनिनह बहाती कित्साओं, इलाके में लोगों के घर जाकर कपड़े धोने का काम करती थी पर कोरोना वायरस के चलते लोगों ने उन्हें काम पर आने से मना कर दिया। जिससे उनके पास खाने पीने के सामान को खरीदने के लिए पैसे नहीं बचे।

कित्साओं की एक पडोसी उनके घर हाल चाल जानने के लिए आयी और पत्थर उबलते देख उन्होंने उसका वीडियो रिकॉर्ड कर स्थानीय मीडिया से संपर्क किया। केन्या की NTV पर उनका इंटरव्यू प्रसारित होने के बाद पूरे देश से उन्हें फ़ोन कॉल आने शुरू हो गए। अब उन्हें पूरे देश से लोग पैसे भेज कर मदद कर रहे है।

न्यू यॉर्क में काफी पहले से कोरोना फैले होने की आशंका, 14 प्रतिशत लोगों में पाए गए एंटीबॉडी

कित्साओं, जोकि दो कमरे वाले घर में अपने 8 बच्चों के साथ रहती है। उनके घर में न तो बिजली की सुविधा है और न ही पानी की। वो इसे एक चमत्कार मानते हुए कहती है की उन्हें भरोसा नहीं हो रहा है की पूरे देश से उन्हें फ़ोन कॉल आ रही है और सभी उनसे पूछ रहे है की वो उनकी मदद किस तरह से कर सकते है।

लोकल अधिकारियों ने अब उनके आस पड़ोस रहने वाले बाकि लोगों की मदद का फैसला किया है जो कोरोना वायरस के चलते भुखमरी के कगार पर पहुंच रहे है।