अमेरिका के केंसास सिटी में एक रेस्टॉरेंट में मारे गए भारतीय छात्र शरत कोप्पू केस में केंसास सिटी पुलिस ने एक संदिग्ध का वीडियो फुटेज जारी करते हुए उसकी पहचान की अपील की है। संदिग्ध को पकड़वाने में सहायता करने वाले को $10000 का इनाम भी घोषित किया गया है।

26 वर्षीय भारतीय छात्र शरत की उस समय हत्या कर दी गयी थी जब वो एक रेस्टॉरेंट में पार्ट टाइम जॉब कर रहे थे। एक चश्मदीद के अनुसार घटना के समय रेस्टॉरेंट में 5 कर्मचारी और 3-4 ग्राहक थे। तभी अचानक आये एक शख्स ने बन्दूक निकल ली।

बन्दूक देख कर ज़्यादातर लोग काउंटर के पीछे छिप गए पर शरत जान बचाने के लिए अंदर की तरफ भागे। हमलावर ने शरत की पीठ पर 5 गोलियां दाग दी और मौके से फरार हो गया।

रेस्टॉरेंट के कर्मचारियों ने इमरजेंसी नंबर 911 पर कॉल करके पुलिस को जानकारी दी। शरत को हॉस्पिटल ले जाया गया पर उन्हें बचाया नहीं जा सका।

शरत इसी साल जनवरी में ही अमेरिका आये थे। उन्हें अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ मिजोरी-कंसास सिटी में मास्टर डिग्री के लिए पूर्ण स्कालरशिप मिली थी और उससे पहले वो भारत में ही सॉफ्टवेयर इंजीनियर की नौकरी कर रहे थे।

अमेरिका में रह रहे उनके दोस्तों ने उनके परिवार की आर्थिक सहायता के लिए एक कैंपेन चलाया है जिसके जरिये बीते 13 घंटे में 50,892$ की राशि जमा की जा चुकी है।