अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा इस महीने को वुमेन हिस्ट्री मंथ के तौर पर मना रही है.ऐसे में नासा ने अपनी महिला अंतरिक्ष यात्रियों को खास तोहफा दिया है.नासा ने आने वाली 28 मार्च को स्पेसवॉक के लिए सभी महिला अंतरिक्ष यात्रिओं को भेजने का फैसला किया है.इस स्पेसवॉक का नेतृत्व अमेरिका की एन्ना मैक्क्लेन और क्रिस्टीना कोच करेंगी.इस स्पेसवॉक में रूसी महिला अतंरिक्ष यात्री स्वेतलाना सावित्सकाया भी शामिल होंगी.1984 के बाद ये पहला मौका होगा जब कोई रूसी महिला स्पेसवॉक करेगी.

ये सभी महिलाएं अंतरिक्ष स्टेशन में पिछली गर्मियों में लगाई गईं बैट्रियों को बदलने के लिए स्पेसवॉक करेंगी.इस स्पेसवॉक की अवधि करीब 7 घंटे के होने की संभावना हैइस काम के लिए इन महिलाओं को अमेरिका के टेक्सास से मैरी लॉरेंस और क्रिस्टीन फेसिओल का सहयोग मिलेगा.फेसिओल ने इस बारे में ट्वीट करके कहा, "मुझे महसूस हो रहा है की इस खास स्पेसवॉक में सहयोग करके मुझे काफी शांति मिलेगी और मैं एन्ना मैक्लेन और क्रिस्टीना कोच के साथ होने वाले इस स्पेसवॉक के लिए खासा उत्साहित हूं."इस खास स्पेसवॉक के पहले एन्ना मैक्लेन एक अन्य पुरुष अंतरिक्ष यात्री निक हेग के साथ 22 मार्च को भी स्पेसवॉक करेंगी.

आपको बता दें की नासा के इस खास स्पेसवॉक के पीछे मकसद अतंरिक्ष यात्री सैली राइड को याद करने का भी है.सैली राइड स्पेसवॉक करने वाली अमेरिकी महिला अतंरिक्ष यात्री थीं.1983 में उन्होंने 4 अन्य साथियों के साथ स्पेसवॉक किया था.दिसंबर 1998 के बाद से अब तक कुल 213 बार स्पेसवॉक किया जा चुका है.बीते साल कुल 8 स्पेसवॉक नासा के अंतरिक्ष यात्रियों ने किए.