National

भारतीय सेना का वीर जिसने मुस्कराते हुए दुनिया को अलविदा कहा

Fri, 04/10/2020 - 03:36

कर्नल नवजोत सिंह बल जैसे विरले कई ऐसे हीरो होते है जिनके बारे में पढ़ने या लिखने का मौका अकसर हमे उनके इस दुनिया से जाने के बाद मिलता है। उनकी ये फोटो कल से सोशल मीडिया और मीडिया में चल रही है। ये फोटो खुद कर्नल बल ने दुनिया को अलविदा कहने के ठीक एक दिन पहले ली है। 9 अप्रैल को उन्होंने कैंसर से लड़ते हुए इस दुनिया को अलविदा कहा।

जैसा की आप देख सकते है की फोटो में कर्नल का दाहिना हाथ नहीं है, बायें हाथ से जिस मुस्कान और बिना किसी शिकन के जिस तरह से वो कैमरे की तरफ देखते हुए फोटो ले रहे है उससे ये अंदाजा लगाया जा सकता है की उनका व्यक्तित्व कितना ही विरला था।

0 comments

एक अदृश्य दुश्मन ने पूरे मानव समाज को अंदर दुबक कर बैठने पर मजबूर कर दिया है

Fri, 04/10/2020 - 02:33

ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक हाल ही में राज्य में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाने का ऐलान किया. ये ऐलान करते वक्त उन्होंने कहा ," कोरोना ऐसी महामारी है जो सदियों में एक बार आती है, जीवन अब पहले जैसा नहीं हो पाएगा". सड़कों की वीरानगी देखकर पटनायक का बयान सही समझ आता है. हमने 25 साल के अपने जीवन में कभी ऐसा नहीं देखा. सड़कों पर सन्नाटा ऐसा नजर आता है जैसे दुनिया खत्म सी हो चुकी हो, लोगों के चेहरे मुरझाए हुए रहते हैं. जिंदगी के कैद होने की निराशा लोगों के चेहरे पर साफ नजर आती है. इसीबीच दर्द उनका और गहरा है जिनके सामने रोजी रोटी की समस्या है.

0 comments

5 स्पेशल फ़ोर्स कमांडो, 5 आतंकी: एक ऐसी जंग जिसकी कहानी लाशें बयां क़र रही थी

Tue, 04/07/2020 - 02:01

बीते रविवार जब पूरा हिंदुस्तान कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन की अवस्था में प्रधानमंत्री मोदी की आवाज पर घरों में दिया जला क़र पुरे विश्व को इस गंभीर संकट से लड़ने के लिए एकजुटता का परिचय दे रहा था उसी समय कश्मीर में सेना के जवान, पाकिस्तान से चुपचाप सीमा पार घुस आये आतंकियों से लड़ रहे थे।

0 comments

आखिर गांव से लोगों को दिल्ली जैसे शहर क्यों आना पड़ता जबकि उन्हें न छत मिल पाती है न खाना

Mon, 04/06/2020 - 03:32

जब कोरोना की वजह से बीते दिनों देश में लॉकडाउन हुआ तो देश के बहुत से लोग शहरों से अपने गांवों की ओर निकल पड़े. बसें, ट्रेन सब बंद थे. ऐसे में लोग पैदल ही अपने गांवों की ओर चल दिए. इन लोगों के अंदर तमाम तरह के डर थे. रोजी-रोटी और शहर में ठिकाना छिन जाने का डर. दिल्ली में बीमारी का डर, लोगों अपने गांवों को सुरक्षित मानते हैं. जब लोग इस तरह पैदल चल दिए तो सरकारों को दबाव में बसें-चलानीं पड़ीं और लोगों को ठिकानों तक पहुंचाया गया.

0 comments

बरसों पुरानी टीबी की वैक्सीन से जगी कोरोना से लड़ने की उम्मीद

Sat, 04/04/2020 - 02:44

भारत में नवजात शिशुओं के टीकाकरण में सालों से प्रयोग में आने वाली बीसीजी वैक्सीन से कोरोना वायरस से लड़ने की उम्मीद जगी है। बीसीजी वैक्सीन भारत में दशकों से घातक बीमारी टीबी से लड़ने में मददगार रही है। दुनिया के कई देश इस वैक्सीन का इस्तेमाल टीबी से बचाव के लिए करते आ रहे है।

0 comments

कोरोना के बाद क्या हमारा बीमार चिकित्सा तंत्र सुधरेगा?

Fri, 04/03/2020 - 03:05

कोरोना वायरस के दुनियाभर में फैलने के बाद भारत समेत दुनिया के कई देशों में लॉकडाउन है. लोगों को अपने घरों में रहने की सलाह दी जा रही है. जो लोग समझदार हैं या कोई मजबूरी नही है वो घरों में रह भी रहे हैं. ये हम सब के लिए एक अलग ही अनुभव है. रोज काम पर जाने वाले लोग घरों में बैठे हैं. सड़कों पर शांति हैं. जिन शहरों में गाड़ियों का शोर ही सुनाई देता था अब वहां कोयल की आवाजें सुनाई देती हैं. दिल्ली जैसे शहरों की हवा साफ है, लोग नीले आसमान की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं. लोगों की थमी हुई इस जिंदगी के बीच बहुत कुछ सोचने का वक्त भी मिल रहा है.

0 comments

तबलीगी जमात के कुकृत्य को मुस्लिम समाज में पढ़ा लिखा वर्ग भी मौन समर्थन दे रहा है

Thu, 04/02/2020 - 02:39

कोरोना वायरस के कहर से दुनिया परेशान है. भारत में भी इससे बचने के लिए 14 अप्रैल तक लॉकडाउन का ऐलान पीएम मोदी ने किया है. पीएम ने सभी से लॉकडाउन का पालन करने की सभी से अपील की. इसी बीच दिल्ली में तबलीगी जमात के मुख्यालय निजामुद्दीन मरकज में लोगों की बड़ी मौजूदगी का पता चला. पुलिस और प्रशासन की अपील के बावजूद ये लोग जमात के दफ्तर में जलसा करते रहे. ये भी पता चला कि यहां बड़ी संख्या में विदेशी मुस्लिम भी थे. यहां आए लोगों में से तमाम देश के दूसरे राज्यों में भी गए और वहां भी कोरोना के मामले सामने आए. तबलीगी जमात से जुड़े कुल 10 लोगों की मौत हो चुकी है. तेलंगाना में 6 लोगों की मौत हुई है.

0 comments

कोरोना संकट खत्म होने पर पहला काम क्या करेंगे, लोगों का जवाब- दारू पीयेंगे

Tue, 03/31/2020 - 01:43

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में है. चीन, इटली, ईरान, स्पेन तो इससे बुरी तरह प्रभावित हैं लेकिन बाकी देश भी परेशान हैं. कोरोना से निपटने के लिए पीएम मोदी ने बीती 24 मार्च को पूरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया. लॉकडाउन में सामान्य तौर पर लोगों के निकलने पर रोक है. बहुत से लोगों के ऑफिस, फैक्ट्री बंद हैं और बहुत से लोग घर से काम कर रहे हैं. बहुत जरूरी सामान लेने के लिए ही लोग बाहर आ रहे हैं. 21 दिनों का ये वक्त घर पर रहने के हिसाब से काफी लंबा है और ऐसे में लोग अपने तमाम शौक पूरे नहीं कर पा रहे हैं.

0 comments

दिल्ली से अपने गांव की ओर क्यों लौटने लगे लोग?

Mon, 03/30/2020 - 02:52

पीएम मोदी ने बीती 25 मार्च को कोरोना के चलते पूरे देश में लॉकडाउन का ऐलान किया. पीएम ने लॉकडाउन का ऐलान 21 दिनों के लिए किया. लॉकडाउन का मकसद था देश के जो लोग जहां हैं, वहीं रूक जाएं ताकि कोरोना को फैलने से रोका जा सके. पीएम के ऐलान से पहले काफी ट्रेनें और बसें रद्द की जा चुकी थीं. पीएम के ऐलान के बाद पूरी तरह से इन सेवाओं पर रोक लगा दी गई. इसी बीच तमाम ऐसे लोग जिन्हें दिल्ली में रोजी रोटी का संकट दिख रहा था, सड़कों पर निकल पड़े. ये लोग अपने गांवों की ओर लौट रहे थे.

0 comments

अमीरों की गरीबी देखना है तो बॉलीवुड कलकारों और क्रिकेटर्स को देख लीजिये

Sat, 03/28/2020 - 04:05

कोरोना वायरस से दुनिया बेहाल है. भारत में भी 21 दिनों का लॉकडाउन है. ऐसे में रोज कमाकर खाने वाले तमाम लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है. भारत के सामने दो तरह की समस्याएं हैं, पहली तो उन स्वास्थ्य जरूरतों को पूरा करना जिनके बगैर कोरोना से बड़ी तबाही हो सकती है और दूसरी उन तमाम लोगों का पेट भरना जिनके सामने जीविका का संकट है. जाहिर है हम इतने भी धनी देश नहीं हैं कि सरकार सभी का पेट बैठे बैठे भर दे. इसके लिए एक सामाजिक जागरण की जरूरत है. बहुत से लोग मदद के लिए सामने आ रहे हैं.

0 comments

न जेब में पैसे न खाने का सामान, कोरोना से बच सके तो भूख निगलने को है तैयार

Fri, 03/27/2020 - 02:34

बीते दिनों कोरोना के चलते पीएम मोदी ने देश में 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान कर दिया. पीएम मोदी ने अपील की कि देश के लोग अगले 21 दिनों तक अपने घरों में ही रहें. उनके ऐलान के बाद देश के बड़े शहरों में काम करने वाले मजदूर वर्ग को भारी संख्या में अपने घरों की ओर पलायन के लिए जाते हुए देखा गया. हालत यहां तक है कि लोग पैदल ही अपने घर की ओर निकल पड़े हैं. ये लोग कई सौ किलोमीटर का सफर पैदल ही तय करने को बेताब हैं. इनके साथ छोटे छोटे बच्चें हैं और जरूरत का सामान है और ये वापस अपने गांव की ओर चल दिए हैं.

0 comments

महामारी: यूरोप में तबाही के बाद प्लेग ने भारत में कब कब तबाही फैलाई

Wed, 03/25/2020 - 01:56

कोरोना वायरस से इस समय पूरी दुनिया परेशान है. कोरोना ने दुनिया के बड़े बड़े शक्तिशाली देशों में भी तबाही मचा दी है. लगातार लोगों की जानें जा रही हैं. भारत में भी इसके असर को देखते हुए पीएम मोदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया है. ये पहली बार नहीं है जब दुनिया किसी बीमारी की वजह से परेशान है. पहले भी कोरोना जैसी महामारी दुनिया में फैल चुकी हैं. ये तथ्य जरूर है कि आज के वक्त में विज्ञान के विकास के दौर में बीमारी का फैलना थोड़ा आश्चर्य पैदा करता है. कोरोना ने भारत और पूरी दुनिया के वैज्ञानिकों के सामने एक बड़ा सवाल खडा कर दिया है.

0 comments

स्पेनिश फ्लू: 20वीं सदी की वो महामारी जिसने 5 करोड़ लोगों को मौत की नींद सुला दिया

Mon, 03/23/2020 - 03:54

साल 1918 में एक तरफ जब प्रथम विश्व युद्ध समाप्ति की ओर था उसी समय मानव इतिहास की सबसे बड़ी महामारी में एक स्पेनिश फ्लू अपने अपने घर वापस लौटते सैनिकों के जरिये पुरे विश्व में फैल रहा था। स्पैनिश फ्लू इन्फ्लून्जा वायरस H1N1 का ही एक प्रकार था जो की सालों तक चले प्रथम विश्व युद्ध में कमजोर पड़ चुके सैनिकों में प्रवेश कर गया था।

0 comments

जजों और राजनीति का मेल नया नहीं है, कांग्रेसी सरकारों ने कई उपलब्धि हासिल की है

Wed, 03/18/2020 - 04:07

हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए मनोनीत कर दिया. रंजन गोगोई ने अयोध्या विवाद, राफेल समेत कई विवादों में फैसला सुनाया था. उन्हें रिटायर हुए अभी मात्र 4 महीने हुए हैं. रंजन गोगोई के राज्यसभा जाने पर सवाल उठ रहे हैं. रंजन गोगोई के राज्यसभा जाने पर सवाल उठ रहे हैं. इस पूरे घटनाक्रम को सीधे तौर पर सरकार और न्यायपालिका के बीच एक अनैतिक संबंध के तौर पर देखा जा रहा है. सवाल उठना लाजिमी भी है हालांकि रंजन गोगोई सुप्रीम कोर्ट के अकेले जज नहीं हैं जो राज्यसभा जा रहे हैं, उनसे पहले भी सुप्रीम कोर्ट के दो जज राज्यसभा पहुंच चुके हैं.

0 comments

राज्यपाल से ज्यादा अब स्पीकर के माध्यम से होने लगा सत्ता परिवर्तन का खेल

Tue, 03/17/2020 - 03:19

मध्य प्रदेश में राजनीतिक उठापटक जारी है। राज्यपाल द्वारा मुख्यमंत्री को सदन में बहुमत साबित करने को लेकर पत्र लिखे जाने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बहुमत साबित करने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा की उनकी सरकार बहुमत है और अगर बीजेपी को शक है तो अविश्वास प्रस्ताव लेकर आये।

0 comments

Pages