भारत की पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की नेता सुषमा स्वराज की मृत्यु हुए कुछ महीनें बीते है। ट्विटर पर सुषमा स्वराज काफी एक्टिव थी और आम लोगों की समस्या दूर करना हो या उनके सवालों के जवाब देने हो वो अपने व्यस्त दिनचर्या से समय निकाल कर उसे हल करने का प्रयास जरूर करती थी।

सुषमा स्वराज की मृत्यु के बाद भी लोग उनके बारे में बात करके उन्हें याद करते रहते है। उनके पति स्वराज कौशल, सुषमा स्वराज के जीवन से जुड़ी हुई कई बातें ट्विटर पर लोगों के साथ साझा करते रहते है। हाल ही में स्वराज कौशल ने सुषमा स्वराज की गुर्दे की बीमारी के इलाज सम्बन्धी वाकया ट्विटर पर लोगों के साथ साझा किया।

आम तौर पर यह देखा गया है की किसी भी तरह की गंभीर बीमारी होने पर नेतागण इलाज के लिए फ़ौरन अमेरिका या इंग्लैंड चले जाते है। कई बार देश में अच्छा इलाज होने के बाद भी उच्च पदों पर आसीन रहने वाले नेता विदेशों में ही इलाज कराना पसंद करते है। पर इसके ठीक उलट सुषमा स्वराज को एम्स के डॉक्टरों ने जब गुर्दे के प्रत्यारोपण के लिए विदेश जाने की सलाह दी तो उन्होंने मना करते हुए कहा की अगर वो अपना इलाज करने बाहर चली जाएँगी तो लोगों में देश में उपलब्ध संसाधनों और डॉक्टरों से विश्वास उठ जायेगा।

सुषमा ने खुद से ही अपनी सर्जरी की तारीख निश्चित करते हुए एम्स के गुर्दा रोग विशेषज्ञ डॉ मुकुट मिंज ने कहा की आप सर्जरी के औजार उठाये बाकि ऑपरेशन श्रीकृष्ण भगवान खुद से ही कर देंगे। सुषमा ने सर्जरी को एक मामूली ऑपरेशन के तरह लिया और बेहतर इलाज के लिए एम्स के डॉक्टरों और नर्सो को शुक्रिया कहा।

अंत में स्वराज कौशल ने प्रधानमंत्री मोदी का शुक्रिया अदा करते हुए लिखा की वो और उनका परिवार मोदी जी का हमेशा आभारी रहेगा। सुषमा स्वराज के इलाज के समय प्रधानमंत्री मोदी खुद डॉक्टरों से हमेशा बात करते रहे और सुषमा को तनाव न लेने के लिए कहते रहे।