कर्नाटक में एक मौलवी ने मंत्री की उपस्थिति में बकरीद के मौके पर गाय काटने की बात कहकर एक नए विवाद को जन्म दे दिया है.मौलवी तनवीर हाशमी ने यह बयान रमजान की नमाज के मौके पर स्वास्थ्य मंत्री शिवानंद पाटिल की मौजूदगी में कर्नाटक के विजयपुरा में दिया.

मौलवी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, "मैं आपको बताए देता हूं दो महीने बाद बकरीद आने वाली है.गाय के नाम पर ये शैतान शरारत करेगा.मैं आपको पहले ही बताए देता हूं ताकि गाय के साथ दूसरी कुर्बानी न हो." आपको बता दें कि कर्नाटक में गौहत्या पर बैन है.मौलवी तनवीर विजयपुरा की हाशिमपीर दरगाह के मौलवी हैं.ये दरगाह मुस्लिमों की बीच खासी आस्था का केंद्र रही है.

वहीं मंत्री शिवानंद पाटिल ने इस विवाद के बाद चुप्पी साध ली है.हालांकि मौलवी के इस भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद लोगों ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है.सामाजिक कार्यकर्ता रितू राठौर ने तनवीर के बयान को भड़काऊ बताते हुए नेताओं की इस पर चुप्पी पर सवाल खड़े किए.

राठौर ने अपने ट्वीट में लिखा,"यह वाकई बेहद शर्मनाक है.मौलवी तनवीर ने साफ तौर कहा कि वो गौहत्या फिर से शुरू कर देंगे.क्या इस तरह शांति को बढ़ावा दिया जा रहा है.क्या इसे राजनीतिक संरक्षण भी प्राप्त है? और ये हिंदू धर्म की आस्था के प्रति उनका सम्मान है..! बेहद घिनौना.!