लोक सभा की 4 और अलग अलग प्रदेशो की 10 विधानसभा सीट पर उपचुनाव में वोटिंग जारी है। चार लोक सभा सीट में उत्तर प्रदेश की बहुचर्चित कैराना लोक सभा सीट और मुंबई की पालघर सीट भी शामिल है। दोनों ही सीट बीजेपी के सांसदों की मृत्यु की वजह से खली हुई थी।

कैराना लोक सभा सीट बीजेपी के सांसद हुकुम सिंह की मौत से खली हुई थी। हुकुम सिंह ये सीट बीजेपी को 16 साल बाद जिताने में कामयाब हुए थे। बीजेपी से उनकी बेटी मृगांका सिंह इस बार चुनाव लड़ रही है।

उनके मुकाबला सयुंक्त विपक्ष की उम्मीदवार राष्ट्रीय लोक दल की तबस्सुम हसन से है। इस सीट पर जाट और मुस्लिम वोटर्स की अच्छी संख्या है।

मृगांका सिंह गुर्जर समुदाय से आती है। मुज्जफरनगर दंगो के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में ध्रुवीकरण हो गया था और जाट समुदाय ने बीजेपी को वोट किया था।

इसका सबसे बुरा असर रालोद पर पड़ा था जो अपना खाता खोलने में भी सफल नहीं हुई थी।

बीजेपी ने इलेक्शन से पहले कई बड़ी रैलिया की पर उसके सामने सबसे बड़ी चुनौती अपने कोर वोटर्स को बूथ तक लाने की है।

फिलहाल वोटिंग अभी जारी है और कुछ बूथ से वोटिंग मशीन में खराबी की बात सामने आ रही है। एक बूथ पर २ घंटे तक मशीन सही न होने पर वोटर्स की पुलिस से कहासुनी हुई और उसके बाद पुरे गांव के लोगो ने चुनाव का बहिष्कार कर दिया।