जब जब भारत के दुश्मनों की बात आती है तो पाकिस्तान का नाम सबसे पहले दिमाग में आता है. जब विदेश में जेल में बंद भारतीयों की बात की जाती है तो भी ऐसा लगता है कि पाकिस्तान में ही भारत के सबसे ज्यादा कैदी बंद होंगे लेकिन ऐसा नहीं है. जब विदेशों में जेल में बंद भारतीयों की बात की जाती है तो सऊदी अरब इस मामले में सबसे ऊपर है. भारत के मित्र देश इजरायल और जापान इस सूची में सबसे नीचे है.

लोकसभा में एक प्रश्न के जवाब में ये आंकड़े सामने आए. आंकड़ों के मुताबिक सऊदी अरब में सबसे ज्यादा भारतीय जेल में बंद हैं. यहां 1811 भारतीय जेल में हैं. अगर सबसे कम संख्या की बात करें तो इजरायल और जापान सबसे नीचे हैं और दोनों देशों में 7-7 भारतीय जेल में हैं. अगर भारत के दुश्मन नंबर एक पाकिस्तान की बात करें तो यहां 48 भारतीय जेल में हैं. संयुक्त अरब अमीरात जेल में बंद भारतीयों के मामले में नंबर दो पर है. यहां कुल 1392 भारतीय जेल में हैं. अमेरिका इस सूची में तीसरे स्थान पर है और यहां 689 भारतीय जेल में बंद हैं. अमेरिका के बाद मलेशिया में 576 भारतीय जेल में हैं. इसके बाद कुवैत में 511 भारतीय जेल में बंद हैं.

पड़ोसी देश और भारत के बड़े प्रतिद्वंदी चीन का नंबर सूची में 6वां है. यहां 270 भारतीय जेल में बंद हैं. चाइना के बाद कतर का नंबर आता है जहां 257 भारतीय जेल में बंद हैं. भारतीय राजनीति में खासी चर्चा में रहने वाला देश इटली भी सूची में ज्यादा नीचे नहीं है. 8वें नंबर पर मौजूद इटली में 242 भारतीय जेल में बंद हैं. बहरीन में 134 भारतीय जेल में हैं. सूची में सिंगापुर और श्रीलंका संयुक्त रूप से 10 वें पर हैं. इन दोनों देशों में 111-111 भारतीय नागरिक जेल में बंद हैं. इनके बाद ऑस्ट्रेलिया का नंबर आता है जहां 78 भारतीय नागरिक जेल में बंद हैं. इनके बाद कनाडा का नंबर आता है जहां 70 नागरिक जेल में बंद हैं. इनके बाद जर्मनी और फ्रांस में क्रमश: 59 और 38 भारतीय जेल में बंद हैं.