जब देश के अंदर नागरिकता कानून का हिंसात्मक विरोध और आगजनी हो रही थी उस समय देश की सीमा पर तनाव और गोलीबारी में इजाफा हो रहा था। ज्यादातर मीडिया संस्थान हिंसात्मक विरोध प्रदर्शन को कवर करने में व्यस्त थे। उसी समय भारतीय सेना के प्रमुख जनरल विपिन रावत ने सीमा पर बढ़ रहे तनाव के बारे में चेतावनी भी जारी की थी।

पिछले 2-3 दिनों से भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाली गोलीबारी में काफी तेजी आयी है। भारतीय सेना ने पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर पर आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया था। नीलम घाटी में पाकिस्तानी सेना को काफी नुकसान उठाना पड़ा।

कल पाकिस्तान की तरफ से हुई गोलीबारी में भारतीय सेना का एक सूबेदार शहीद हो गया और एक महिला आम नागरिक की भी मौत हो गयी। जवाब में भारतीय सेना की तरफ से की गयी कार्यवाही में पाकिस्तान की कई चौकियां तबाह हो गयी है साथ ही उसके कई जवान मारे गए है।

आम तौर पर पाकिस्तानी सेना अपने मारे गए सैनिकों के बारें में हमेशा मना करती रहती है पर इस बार 2 सैनिकों की फ़ोटो शेयर करते हुए उनके मारे जाने की पुष्टि पाकिस्तानी सेना की तरफ से की गयी है। इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को चेतावनी जारी करते हुए कहा था की पाकिस्तान की तरफ से की जा रही गोलीबारी का मुहतोड़ जवाब भारतीय सेना देगी।