दिल्ली में कौन ज्यादा शक्तिशाली है इस बात को लेकर चल रही जंग रुकने का नाम नहीं ले रही। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब नया विवाद अधिकारियों के ट्रांसफर और पोस्टिंग को लेकर चल रहा है।

दरअसल सुप्रीम कोर्ट का फैसला आते ही सभी अपने अपने हिसाब से उसकी व्याख्या करने में लगे है। राजनैतिक पार्टियों से लेकर, विभिन्न मीडिया हाउस भी अपनी अपनी विचारधारा के हिसाब से फैसले को प्रचारित कर रहे है।

फैसला आने के तुरंत बाद ही आम आदमी पार्टी और बीजेपी ने इसे अपनी जीत बताया। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा की अब अधिकारियों की ट्रांसफर पोस्टिंग का अधिकार उनके पास है जो की दो साल पहले हाई कोर्ट के एक फैसले के बाद जाता रहा था।

हालांकि अधिकारियों के संगठन इस मुख्यमंत्री केजरीवाल के फैसले से खुश नजर नहीं आ रहे। और उन्होंने इसके खिलाफ आवाज उठाना भी शुरू कर दिया है।

अभी तक गृहमंत्रालय के तरफ से इस सम्बन्ध में किसी भी तरह का कोई बयान जारी नहीं हुआ है।