12 मई को पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम एक संदेश दिया. पीएम मोदी ने बताया कि किन 5 पिलर से भारत आत्मनिर्भर बनेगा. पीएम मोदी ने ये भी बताया कि किस तरह से कोरोना संकट के दौरान देश आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ा है. पीएम मोदी के बयान पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने करारा हमला किया है. राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा कि मैं आज तक आत्मनिर्भर नहीं हो पाया हूं, पता नहीं मेरा नंबर कब आएगा.

राहुल ने आगे लिखा 'मोदी जी देश की बात करते हैं लेकिन विपक्ष को साथ लेकर नहीं चलते. विपक्ष का बड़ा नेता होने के बावजूद मैं आज भी आत्मनिर्भर नहीं हो पाया हूं और पीएम पूरे देश को आत्मनिर्भर बनाने की बात करते हैं. उन्होंने आज तक मुझे एक भी सलाह नहीं दी. आज भी सूरजेवाला जी के बगैर मैं एक प्रेस कॉन्फ्रेंस तक नहीं कर पाता." राहुल ने अपने साथ साथ मीडिया की आत्मनिर्भरता को लेकर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा. राहुल ने लिखा, "मोदी जी वैसे भी बांटने में माहिर हैं. उन्होंने आत्मनिर्भरता के मामले में मीडिया को भी बांट दिया है. मोदी सरकार के समर्थन में रहने वाले पत्रकार आज भी अपने चैनलों पर निर्भर हैं, जबकि विरोध करने वाले पत्रकार एक एक करके आत्मनिर्भर होते जा रहे हैं. मोदी विरोधी अधिकतर पत्रकार यू ट्यूब चैनल खोलकर आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहे हैं. हम पीएम के मंत्र पर कैसे यकीन करें जब उनके समर्थक ही आज तक आत्मनिर्भर नहीं हैं."

व्यंग: राहुल गांधी ने कहा लॉकडाउन बढ़ाने के पीछे मुझे बैंकाक जाने से रोकने की साजिश

राहुल गांधी के बयान पर बीजेपी प्रवक्ता शहनवाज हुसैन ने पलटवार किया है. शहनवाज हुसैन ने कहा, " राहुल गांधी जी दिल्ली और खुद तक ही सीमित हैं. वो पूरे देश के बारे में सोच ही नहीं पा रहे हैं. राहुल जी को देश की सड़कों पर हजारों किलोमीटर पैदल चलता मजदूर नहीं दिख रहा है. ये देश की आत्मनिर्भरता नहीं, तो किसकी निशानी है. केंद्र और राज्य सरकारों का समग्र प्रयास रहा कि लॉकडाउन के दौरान मजदूरों को आत्मनिर्भर बनाया जाए. इसके लिए भोजन और आवास को लेकर सरकारों ने पूरी तरह मजदूरों को अकेले छोड़ दिया. आज देखिए सब पैदल ही चले जा रहे हैं. अरे राहुल जी बीजेपी सरकारों ना सही, अपनी कांग्रेस सरकारों का आत्मनिर्भरता मिशन में योगदान देखिए."