श्रीनगर के बाहरी इलाके लवायपोरा में कल हुई एक मुठभेड़ में 3 आतंकी मारे गए। जल्दी सुबह शुरू हुई मुठभेड़ देर शाम तक चलती रही। सुरक्षाबलों को मिली गोपनीय जानकारी के बाद इलाके में सेना, सीआरपीएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस ने सयुंक्त अभियान चला कर लवायपोरा इलाके को पूरी तरह से घेर लिया था।

तलाशी के दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी की, जवाब में सुरक्षाबलों की कार्रवाही में तीनों आतंकी मारे गए। मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए है। हालांकि मुठभेड़ ख़त्म होने के बाद इलाके के लोगों ने फर्जी मुठभेड़ का आरोप लगाया। मारे गए आतंकियों के घर वालों का कहना है की उनके लड़के 11 वीं कक्षा के विद्यार्थी थे और फीस जमा करने आये थे।

जम्मू कश्मीर पुलिस के मुखिया दिलबाग सिंह ने फर्जी मुठभेड़ के आरोपों को नकारते हुए कहा की सुरक्षाबल सिर्फ अपना काम कर रहे है। पुख्ता सूचना के बाद आतंकियों पर कार्रवाही की गयी है। आतंकियों ने देर रात ही गोलीबारी शुरू कर दी थी पर सुरक्षबलों ने जवाबी कार्रवाही तड़के सुबह ही शुरू की।

उधर अज्ञात आतंकियों ने श्रीनगर के ही सराय बाला इलाके में एक सर्राफ की गोली मार कर हत्या कर दी। मारे गए व्यक्ति का नाम सतपाल निष्चल है। सतपाल इलाके में निष्चल ज्वेलर्स नाम से सोने चांदी की दुकान चलाते थे। किसी भी आतंकी संगठन ने हत्या की जिम्मेदारी नहीं ली है।