दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने ट्वीट करके जानकारी दी की तेज बुखार और गिरते ऑक्सीजन लेवल की वजह से उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती किया जा रहा है। सत्येंद्र जैन लगातार अधिकारियों से मीटिंग कर रहे थे और उसी वजह से ये सम्भावना जतायी जा रही है की वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके है।

आज सुबह उन्हें राजीव गाँधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है जो की मौजूदा समय में सिर्फ कोरोना के मरीजों का इलाज कर रहा है। हालांकि जैन का अभी तक कोरोना टेस्ट नहीं हुआ है पर आज ही उनका टेस्ट किया जायेगा।

बीते कई दिनों से गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और सत्येंद्र जैन आला अधिकारियों के साथ नार्थ ब्लॉक में लगातार बैठक कर रहे थे। सत्येंद्र जैन अगर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाते है तो इन सभी लोगों को नियमानुसार एकांत में रहना होगा। जोकि कोरोना से जूझ रही दिल्ली के लिए एक झटका हो सकता है।

हालांकि देखने वाली बात यह भी जंहा एक तरफ आम आदमी को सारे लक्षण दिखने के बाद और हालत गंभीर होने पर कोरोना के टेस्ट की रिपोर्ट के बिना सरकारी तो दूर प्राइवेट हॉस्पिटल भी भर्ती करने से इंकार कर देते है और कई मामले देखे गए जिनमे मरीज ने हॉस्पिटल के गेट पर दम तोड़ दिया। वंही दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन जिनमे कोरोना के लक्षण दिखाई मात्र देने से सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कर दिए गए जबकि उनका टेस्ट भी अभी तक नहीं हुआ है।