फिल्म शोले में गब्बर के मशहूर डायलाग "कितने आदमी थे कालिया" में डकैत कालिया का रोल निभाने वाले विजू खोटे का आज 77 वर्ष की आयु में निधन हो गया। वह पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे, रात में नींद में ही उनका निधन हो गया। डॉक्टरों ने बताया की विजू खोटे की मौत शरीर के कई अंगो के फेल हो जाने से हुई।

उनके परिवार ने बताया की वो हॉस्पिटल में मरना नहीं चाहते थे इसलिए हम उन्हें घर ले आये थे। विजू ने लगभग 300 हिंदी फिल्मों में काम किया। उन्हें मराठी सिनेमा और रंगमंच में दिए गए योगदान के लिए हमेशा याद रखा जायेगा।

विजू खोटे की बड़ी बहन शुभा खोटे भी बॉलीवुड में काफी एक्टिव रही है। खोटे ने हिंदी सिनेमा में हर तरह के रोल किये चाहे वो एक गंभीर विषय पर बनी फिल्म हो या हल्की फुल्की कॉमेडी फिल्म।