देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई में चल रही कथित वर्चस्व की लड़ाई के बीच स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना का एक वीडियो खासा वायरल हो रहा है.सोशल मीडिया पर चल रही 2 मिनट 20 सेकेंड की इस क्लिप में राकेश अस्थाना को एक कर्मठ पुलिस अफसर के तौर पर दिखाया है.ग्रामीण भारत की एक झलक के साथ शुरू होने वाले इस वीडियो में अस्थाना के सूरत में बतौर पुलिस कमिश्नर कार्यकाल को सराहा गया है.वीडियो में अस्थाना को सरदार पटेल,सुभाष चंद्र बोस और विवेकानंद की तरह अलग पहचान बनाने वालों की तरह बताया गया है.

जूतों की खटखट करती आहट से अस्थाना के वीडियो में एंट्री से पहले उनके बारे में एक प्रभावशाली परिचय दिया गया है.इसमें कहा गया है की ‘यह उन्हीं खास व्यक्तियों में से एक है, जिसके कदम जब भी उठे तो एक नेक राह की ओर उठे. जिसने अपने पद का सम्मान बढ़ाते हुए कर्तव्यनिष्ठा की मिसाल कायम की. जिसने अपने हाथ में आए हर काम को कड़ी मेहनत और लगन से पूरा किया. जिसने अपने कंधों पर सुरक्षा का जिम्मा उठा कर इन्हें ईमानदारी से निभाया. वह है हम सबके, श्री राकेश अस्थाना जी!’

वीडियो में किसी फिल्मी कहानी की तरह अस्थाना को ऑफिस जाते हुए और काम करते हुए दिखाया जाता है.1984 में उनके करियर की शुरुआत हुई ये बताने के बाद किस तरह उन्होंने सूरत में पुलिसकर्मियों में एकजुटता पैदा कर सूरत में क्राइम रेट कम किया ये दिखाया गया है.वीडियो में ये भी बताया गया है की अस्थाना ने सूरत को अंतर्राष्ट्रीय पटल पर पहचान दिलाई है.क्लिप के आखिर में कहा गया है, ‘यूं तो जहां में सभी आते हैं जीने के लिए, जिंदगी वो है जिस पर जमाना फख्र करे.’

आपको बता दें की ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल जरूर हो रहा है लेकिन ये अभी का नहीं है.गौरतलब है की सीबीआई में इन दिनों स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना और डायरेक्टर आलोक वर्मा के बीच विवाद चरम पर है.अस्थाना के खिलाफ जहां घूस लेने के लिए एफआईआर दर्ज की जा चुकी है वहीं उन्होंने भी आलोक वर्मा के खिलाफ सीवीसी को शिकायत भेजी है.अस्थाना की नियुक्ति सीबीआई में 2017 में हुई थी और आलोक वर्मा ने उनकी नियुक्ति पर भी सवाल उठाए थे.